पद्मश्री डा. मानस बिहारी वर्मा का निधन देश के लिये अपूरणीय क्षति: राजीव रंजन प्रसाद, उनकी स्मृति में मेघावी छात्रों को स्कॉलरशिप देगी जीकेसी

पटना, 06 मई ग्लोबल कायस्थ कॉन्फ्रेंस (जीकेसी) ने महान वैज्ञानिक वैज्ञानिक मानस बिहारी वर्मा की स्मृति में इंटरमीडियट के मेघावी छात्रों को

स्कॉलरशिप देने का निर्णय लिया है।  

देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में अपना नाम रौशन करने वाले वैज्ञानिक मानस बिहारी वर्मा का हाल ही में निधन हो गया है। दिवंगत श्री मानस बिहारी वर्मा की स्मृति में जीकेसी ने वर्चुअल सभा का आयोजन कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजली दी है। वर्चुअल श्रद्धांजली सभा में जीकेसी ओवरसीज विंग के अलावा अलग-अलग प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पदाधिकारियों ने श्री मानस बिहारी वर्मा को श्रद्धांजली अर्पित की।

इस अवसर पर जीकेसी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने श्री मानस बिहारी वर्मा के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि देश में जब भी विज्ञान के क्षेत्र में विकास की बात की जायेगी श्री मानस बिहारी वर्मा नाम स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा।उनके द्वारा विज्ञान और शिक्षा के क्षेत्र में किये गये कार्य लोगों के लिये प्रेरणास्रोत है।

डॉक्टर मानस बिहारी वर्मा ने 35 वर्षों तक अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) में एक वैज्ञानिक के रूप में काम किया। तेजस फाइटर जेट विमान की डिज़ाइन बनाने की पूरी जिम्मेदारी उन्होंने संभाली थी।श्री वर्मा ने सेवानिवृत्त होने के बाद शिक्षा के क्षेत्र में भी उल्लेखनीय योगदान दिया था।

मिथिला के बच्चों में वैज्ञानिक चेतना को विकसित करने और वैज्ञानिक समाज बनाने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

वह सरकारी विद्यालय में अध्ययनरत बच्चों के बीच जाकर उनमें वैज्ञानिक चेतना जगाते थे। पद्मश्री सम्मान से सम्मानित वैज्ञानिक डॉ मानस बिहारी वर्मा आजीवन राष्ट्र और समाज की सेवा में सलंग्न रहे ।

श्री प्रसाद ने बताया कि पद्मश्री डा. मानस बिहारी का जीवन राष्ट्र के प्रति समर्पित था। देश के प्रति डॉ. मानस बिहारी वर्मा का योगदान अविस्मरणीय है।

उन्होंने कहा कि निधन से वैज्ञानिक एवं सामाजिक क्षेत्रों में अपूरणीय क्षति हुई है।साइंटिस्ट ऑफ द ईयर पुरस्कार, ‘टेक्नोलॉजी लीडरशिप अवार्ड’ समेत कई सम्मान से अंलकृत श्री मानस बिहारी वर्मा की स्मृति में जीकेसी ने इंटरमीडिया विज्ञान के मेघावी छात्रों को स्कॉलरशिप देने का निर्णय लिया है।

उन्होंने बताया कि जीकेसी 29 जुलाई 2021 को स्व मानस बिहारी वर्मा की जयंती के अवसर पर विज्ञान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे एक होनहार छात्र को स्कॉलर शिप के लिए बनायी जाने वाली समिति की अनुशंसा के आधार पर छात्रवृति प्रदान करेगी।

वर्चुअल सभा में जीकेसी के राष्ट्रीय महाचिव मनोज श्रीवास्तव, ओवरसीज विंग की अध्यक्ष नेहा निरुपम, वरिष्ठ राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अखिलेश श्रीवास्तव,

उपासना सहाय, अलीशा शिवम, शिक्षा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष दीपक कुमार वर्मा, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष पुष्कर श्रीवास्तव, डिजिटल-संचार प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष आनंद कुमार सिन्हा, राजनीति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. राजीव रंजन प्रसाद, महिला प्रकोष्ठ की राष्ट्रीय अध्यक्ष माया कुलश्रेष्ठ, महिला प्रकोष्ठ की संयोजक श्रीमती रितु खरे, आइटी सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नवीन श्रीवास्तव, विधि प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अवनीश श्रीवास्तव, युवा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष लाला सौरभ वर्मा, मीडिया सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रेम कुमार, कला संस्कृति प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय अध्यक्ष देव कुमार लाल, युवा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष अभिषेक शंकर, युवा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय महासचिव कुमार आर्यन, राष्ट्रीय सचिव डॉक्टर अभिलाषा सिन्हा, राष्ट्रीय प्रवक्ता कमल किशोर, अतुल आनंद सन्नू, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुनील श्रीवास्तव, डिजिटल-संचार प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आलोक सहाय, राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष, प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के प्रो. डा. रमन बल्लभ, कला संस्कृति प्रकोष्ठ की राष्ट्रीय सचिव श्रीमती श्वेता सुमन ने भी श्री मानस बिहारी वर्मा को श्रद्धांजली दी।

Related posts