पत्रकार प्रदीप उपाध्याय पर हुए हमले को लेकर FIR दर्ज, छपरा के डॉक्टर संजीव रंजन और तीन अन्य को बनाया नामजद अभियुक्त

पटना एक दैनिक अखबार के पत्रकार प्रदीप उपाध्याय के आवास में घुस कर मार पीट करने के आरोपी डॉक्टर संजीव रंजन पर FIR दर्ज कर लिया गया है।

इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए श्री उपाध्याय ने बताया कि छपरा में पदस्थापित डॉक्टर संजीव रंजन नें अपने ड्राईवर राजू पासवान के साथ षड़यंत्र रचकर उनकी संपत्ति हड़पने की नियत से उनपर हमला करवाया।

उन्होंने कहा कि इस घटना की शिकायत के बाद बुद्धा कॉलोनी थाना, पटना में FIR दर्ज करा दिया गया है। श्री उपाध्याय ने बताया कि डॉक्टर समेत FIR में तीन अन्य नामजद आरोपीगण उन्हें लगातार अपनी संपत्ति पर दावा छोड़ने का दबाव बनाते रहते हैं और फर्जी मुक़दमे में फंसाने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने का प्रयास करते रहते हैं।

घटना के सम्बन्ध में उन्होंने बताया कि पिछले दिनों डॉक्टर संजीव रंजन के कुछ लोग उनके घर पर आये और उन पर और उनकी माँ पर हमला करने का प्रयास किया। अपराधियों ने उनका गला दबाने का भी प्रयास किया।

श्री उपाध्याय ने बताया कि ताजा घटना में भी पत्रकार द्वारा अपनी संपत्ति पर दावा नहीं छोड़ने पर डॉक्टर संजीव रंजन ने अपने महादलित ड्राईवर का दुरुपयोग करते हुए पत्रकार को फर्जी एस.सी.एस.टी. एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज करवाकर जेल भिजवाने की धमकी दी।

पत्रकार प्रदीप उपाध्याय के अनुसार उन्होंने बुद्धा कॉलोनी के थानेदार रवि शंकर सिंह ने प्राप्त आवेदन को प्रथम दृष्टया में सत्य प्रतीत मानते हुए मामले में FIR दर्ज कर लिया गया है। प्रदीप उपाध्याय ने श्री सिंह को घटना से संबंधित फ़ोन रिकॉर्डिंग की कुछ क्लिप उपलब्ध करायी है। प्रशासन द्वारा इसकी जांच की जा रही है उसके बाद समयबद्ध और विधिसम्मत कारवाई सुनिश्चित की जाएगी।

Related posts