विकास , जन जागरूकता और पर्यावरण संरक्षण में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका : मंत्री

पटना । बिहार के वन , पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन तथा सहकारिता मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने कहा है कि पर्यावरण को संरक्षित और सुरक्षित बनाए रखने का संदेश जन – जन तक पहुंचने में मीडिया को अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की जरूरत है ।
डॉ कुमार ने शनिवार की शाम यहां ए एन कॉलेज के सभागार में दैनिक नवबिहार टाइम्स के 35वें स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह में कहा कि जिस प्रकार से जलवायु परिवर्तन के विभिन्न दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं , ऐसी स्थिति में पर्यावरण संरक्षण को प्राथमिकता देने की अत्यावश्यकता है और इसका संदेश जन – जन तक पहुंचाने तथा जनता को जागरूक करने में मीडिया से विशेष अपेक्षा है । उन्होंने कहा कि मीडिया समाज को दिशा दिखाने का काम करता है और आज भी समाचार पत्रों पर आम जनता का सबसे अधिक भरोसा है, जुड़ाव है । डॉ कुमार ने कहा कि बिहार के किसी जिले से 35 वर्षों से दैनिक नवबिहार टाइम्स का प्रकाशन देश की पत्रकारिता जगत के लिए भी महत्वपूर्ण है और नये समाचार पत्रों के लिए प्रेरणादायक है ।

इस अवसर पर नगर विकास एवं आवास तथा विधि मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि बिहार में अब मीडिया सकारात्मक तथा विकासात्मक खबरों को प्रमुखता से प्रकाशित – प्रसारित करें ताकि इस दिशा में अच्छा काम करने वाले लोगों को प्रोत्साहन एवं बढ़ावा मिल सके । उन्होंने कहा कि प्रिंट, इलेक्ट्रानिक, सोशल मीडिया को सकारात्मक रिपोर्टिंग कर विकसित राज्य बनाने में अपना विशिष्ट योगदान देने की जरूरत है । श्री नवीन ने कहा कि राज्य से प्रकाशित हो रहे पत्र – पत्रिकाओं को प्रोत्साहित करने की जरूरत है । सूचना एवं जनसंपर्क मंत्री महेश्वर हजारी ने कहा कि विभाग पत्र – पत्रिकाओं के साथ-साथ पत्रकारों के हित में काम करेगा । उन्होंने कहा कि किसी राज्य के विकास में मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका होती है और बिहार की मीडिया इस दिशा में अच्छे ढंग से काम कर रही है । राज्य के सुदूरवर्ती इलाके औरंगाबाद से अनवरत 35 वर्षों से नवबिहार टाइम्स का प्रकाशन गौरवपूर्ण उपलब्धि है ।

इस अवसर पर औरंगाबाद के पूर्व सांसद सुशील कुमार सिंह ने विकास , जागरूकता और समाज को सही दिशा दिखाने में मीडिया की उपयोगिता को महत्वपूर्ण बताया । उन्होंने कहा कि नवबिहार टाइम्स ने अपनी सकारात्मक खबरों के माध्यम से पाठकों तथा समाज में अपना विशिष्ट स्थान बनाया है । श्री सिंह ने कहा कि जलवायु परिवर्तन तथा देशव्यापी जल संकट को देखने के लिए नेशनल वाटर ग्रिड बनाने की जरूरत है और बाढ़ तथा नदियों के पानी की बर्बादी को रोककर उसका सदुपयोग करने का समय अब आ गया है । इस अवसर पर पत्र सूचना कार्यालय के अपर महानिदेशक एसके मालवीय, आकाशवाणी के समाचार प्रमुख अजय कुमार , केंद्रीय संचार ब्यूरो के उपनिदेशक संजय कुमार , ए एन कॉलेज के प्राचार्य डॉ प्रवीण कुमार , सच्चिदानंद सिन्हा कॉलेज के औरंगाबाद के प्राचार्य डॉ सुधीर कुमार मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार विनय कुमार , कमलकांत सहाय ने भी मीडिया के महत्व तथा उपयोगिता पर प्रकाश डाला ।

कार्यक्रम के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट योगदान के लिए प्राचार्य डॉ सुधीर कुमार मिश्रा, बी डी कॉलेज के प्राचार्य डॉ विवेकानंद सिंह , बर्सर अमित कुमार , बिहार एक्यूप्रेशर योग कॉलेज के सचिव डॉ अजय प्रकाश , इंडस टावर के स्टेट हेड (ऑपरेशन) पंकज सिन्हा, यूपीएससी से सिविल सेवा के लिए चयनित मोनिका श्रीवास्तव, शिक्षा पुरुष सुरेश प्रसाद गुप्ता, डॉ निर्मल कुशवाहा, डॉ सोनाली गुप्ता, श्रेष्ठ एसआर इंजीनियरिंग प्रा. लिमिटेड के निदेशक सुरेंद्र श्रेष्ठ , समाजसेवी मुनेश जैन, लक्ष्मी पब्लिक स्कूल के अध्यक्ष अभिषेक कुमार आदि को सम्मानित किया गया ।
आगतों का स्वागत नवबिहार टाइम्स के संपादक कमल किशोर ने किया और संचालन किया प्रेमेंद्र कुमार मिश्र एवं शंकर कैमूरी ने ।
इस मौके पर आयोजित राष्ट्रीय कवि सम्मेलन में मध्य प्रदेश , उत्तर प्रदेश, झारखंड से आये कवि – कवयित्रियों अर्चना अर्चन , नागेश्वर शांडिल्य, विभा सिंह, शिवकुमार व्यास , कस्तूरी सिन्हा एवं शंकर कैमूरी ने अपनी रचनाओं से श्रोताओं को मंत्र मुग्ध कर दिया ।

Related posts

Leave a Comment